साहिल ने चांदनी की कुमारी चूत की सील तोड़ी

0 0
Read Time:15 Minute, 57 Second

चांदनी की गुलाबी चूत

हेलो दोस्तों मेरा नाम चांदनी है, और मेरा जन्म पुणे शहर में हुआ था. और मेरी उम्र २७ साल है. लेकिन आज में आपको जो आपको कहानी सुनाने जा रही हु, वो मेरा ही अतीत है. बात उन दिनों की है जब मैं १८ साल की थी और मैं कुमारी थी उस समय मेरा ग्रेजुशन का पहला साल था. मेरे शर्मीले स्वभाव की वजह से मेरा कोई बॉय फ्रेंड भी नहीं था, मेरे सभी दोस्त लड़कियां ही जिसमे से मेरी सबसे अच्छी दोस्त कायरा थी में उसी के साथ कॉलेज जाती थी और उसी के साथ कॉलेज से वापिस आती थी. कॉलेज का पहला साल सब कुछ सही चल रहा था हम दोनों साथ में काफी खुस थे. लेकिन कुछ दिन बाद कायरा का एक बॉय फ्रेंड बन गया जिसकी वजह से वह मुझ से दूर हो गई. उसे मेरा मिलना काम हो गया अब वह ज्यादा टाइम अपने बॉयफ्रेंड के साथ रहने लगी. तो फिर मैं कॉलेज की उन लड़किओं के साथ रहने लगी जो कायरा की फ्रेंड थी. फिर एक दिन कायरा के बॉयफ्रेंड के दोस्त साहिल ने मुझे प्रोपोज किया। लईकिन में उससे पहली मीटिंग में मिलने से डर गई थी तो मैं उसको मना कर दिया।

 

पार्टी के बहाने चांदनी को रात में बुलाया।

मेरे साहिल को मना करने के बाद साहिल और कायरा के बॉयफ्रैंड कायरा के साथ मिल कर मुझ फ़साने के लिए एक प्लान बनया। जिसके लिए उन एक पार्टी प्लान की जिसमे कायरा ने मुझे भी बुलया।  लेकिन मैंने पार्टी में जाने से साफ़ मना कर दिया जिससे वह मुझ  नाराज हो गई, उसने मुझ बोलना भी छोड़ दिया। कायरा की ये नाराजगी मुझ नहीं गई नहीं गई तो मैंने उससे पार्टी में जाने के लिए है बोल दिया। मेरे है बोलते ही वह खुसी से झूम उठी और उसने मुझे गले लगा  लिया. जैसा की उन्होंने पार्टी मेरे लिए प्लान की तो उन्होंने पार्टी शनिवार रात को रखी ताकि वो मुझे पूरी रात रोक पाय. उन्होंने शनिवार रात का पूरा इंतज़ाम कर लिया था.

Chandani-3

धोके से मेरे कपडे उरवाये

आखिर कार वो रात आ गई जो रात मैं पूरी जिंदगी नहीं भुला सकती, मैं  और कायरा पार्टी में रात आठ बजे पहुंच  गए थे. वह पर सभी मेरा ही इंतज़ार कर रहे थे. जिनमे साहिल मुझे देख कर काफी कुश था, उसने मुझ से डांस के लिए पूछा और मैं उसके साथ साथ डांस करने लगी फिर उसने मुझे ड्रिंक के लिए पूछा तो मैंने उससे फिर सॉफ्ट ड्रिंक मंगाई लेकिन उसने मेरी ड्रिंक में कुछ मिला दिया जिससे मेरा सिर घूमने लगा लेकिन फिर थोड़ी दे बाद मुझे भी बहुत अच्छा लगने लगा फिर मैंने एक बियर की बोतल पि ली अब मैं वह सभी मौजूद सभी लड़को के साथ नाचने लगी. उस पार्टी में मुझे मज़ा कर रहे, कि उससे पहले मैंने अपनी पूरी जिंदगी में कभी नहीं किये थे।  लेकिन कुछ देर बाद कुछ लड़के मेरे साथ अश्लील हरकते करने लगे वो मेरे बूब्स और मेरी चूतड़ पर अपने हाँथ फेरने लगे थे. जिस्सकी वजह से मैं एक लड़के के थप्पड़ मार दिया। मेरे थप्पड़ मरते ही मुजिक बंद कर दिया गया फिर उसके बाद कायरा मेरे पास आई और उस लड़के डांट कर पार्टी से बहार निकल दिया। इसके बाद १२ बजे तक ज्यादा तर लोग भी अपने अपने घर चले गए थे।  अब सिर्फ  पार्टी में मुझे और कायरा को मिला कर ६ लोग जिसमे ४ लड़के में कायरा का बॉयफ्रेंड और साहिल और उनके फ्रेंड्स रह गए थे।  हम सब हाल में बैठ कर बातें कर रहे थे कि तब तक कायरा ने अपनी ड्रिंक जान मेरे कपड़ो पर गिरा दी और उसके बाद मुझ से माफ़ी मांगने लगी ताकि मुझ कोई सक न हो. फिर वह मेरे साथ बाथ रूम में गई और जब मैंने अपने इनवेअर (अंदर के कपडे) छोड़ कर सरे उतर दिए तो वह मेरे कपडे बाथरूम से  लेकर हॉल में आ गई जहाँ और सभी लोग भी बैठे थे।

Chandani

बिना कपडे के बाथरूम से पार्टी में जाना पड़ा

अब जब वह मेरे कपडे बाथरूम से ले जा चुकी थी तो वह मुझ पर जोर से हंस रही थी और मैं उससे बोल रही थी, कायरा प्लीज मेरे कपडे मुझे वापिस कर दे और वह बोल रही थी की जब तक कि तू हॉल में नहीं आये गई तेरे कपडे तुझे नहीं मिलेंगे।  यह बहस हम दोनों काफी देर तक चल रही थी लेकिन वह मेरे कपडे देने को राजी नहीं हुई. उसने मुझ बोलै की अगर तुझे कपडे चाहिए तो हॉल में सोफे पर रखे है तू खुद ही यहाँ आकर ले ले।  मुझे बहुत सरम आ रही थी  क्युकि कायरा और उसके बॉयफ्रेंड और उसके दोस्त सभी हाल में हंस रहे थे और मुझे कम कपड़ों में बहार आते देखना चाहते थे. मैं काफी देर देर तक बाथ रूम में ही बैठी रही अब मुझे बाथ में सर्दी भी लगने लगी थी तो मैंने पास में रही टावल को अपने सरीर पर लपेट कर कपडे लेने के लिए हाल में आई इतने में कायरा ने अपने मोबाइल से मेरा वीडियो बना लिया और जब मैं उसके पास मोबाइल लेने को आगे बड़ी तो उसने मेरा टावल भी चीन लिया और फिर से हसने लगी. फिर उसके बाद जब मैं अपने कपड़ों की तरफ भागी तो साहिल में मेरे कपडे अलमारी में रख कर उसको लॉक कर दिया। अब पार्टी में सभी की नज़र मेरे अधनगें शरीर ही थी वह सब मेरे टाइट बब्रा और मेरी लाल छड़ी पर नजर टिका कर उसे ही ताड रहे थे. उस दिन मुझे पता चला की कायरा मेरी दोस्त नहीं बल्कि वह मुझ मेरी खूबसूरती से जलती थी क्युकि कॉलेज के सभी लड़के मेरे कामुक शरीर की बातें कर और हर कोई मेरे बॉयफ्रेंड बनना चाहता था. ऐसी जलन की वजह से उसने मुझे कॉलेज उन्ही ६ लड़को के सामने अधनगां किया. तो मैंने सोचा की अब उसको सुकून मिल गया होगा तो सायद अब कायरा मेरे कपडे वापिस दिला देगी, लेकिन मैं गलत थी कायरा का ये गांड खेल अभी सुरु हुआ सुरु हुआ था.

Chandani-1

मेरी चूत में साहिल की उंगली

अब मैं कायरा के सामने हाथ जोड़ कर बोल रही थी, कि वीडियो डिलीट कर दो लेकिन कायरा ने बोला की जिस टेबल चारो लड़के बैठे है, उस ऊपर चढ़ डांस करो नहीं तो में ये वीडियो कॉलेज में सभी को देखा दूंगी। अब में उसके जाल में पूरी तरह से फास गई थी, तो मजबूरी में उसकी बात माननी पड़ी मैं उन लड़को की टेबल पर उनके बीच में नाच रही थी तो वह सभी मेरे चूत पर चड्डी के ऊपर से हाँथ लगा रहे थे और साहिल मेरे ब्रा ने अंदर हाथ डाल दिया। तभी मैंने देखा की वहाँ बैठे सभी लोगों के जीन्स के अंदर उनका लिंग खड़ा हो गया था. और साहिल की हरकतों ने मुझे लग रहा था कि वह मुझे चोदना चाह रहा है. तभी वह मेरी पेंटी के भीतर उंगली दाल कर मेरी गुलाबी चूत को सहला रहा था, यह सब करते करते रात के दो बज गए थे तभी कायरा का बॉयफ्रेंड वह से उठ कर कायरा को किश करने लगा और वो किस करते करते उन दोनों दे अपने सरे कपडे उतर दिया और वो हॉल में हमरे सामने ही सेक्स करने लगे ज्यादा तक मुझे पता थी कायरा भी मेरी तरह पूरी तरह से कुमारी थी, और जब उसके बॉयफ्रेंड ने अपना बड़ा लंड कायरा की चूत में झटके से अंदर डाला तो वह चीख पड़ी और वह सभी लोग मेरी वजए कायरा को देखने लगे तभी कायरा ने बोल बेबी ओर  जोर से ओर जोर से अब कायरा को चुदने बहुत मज़ा आ रहा था और साथ ही साथ वह दर्द से करहा भी रही थी उसकी चुत से निकले खून से सोफे पड़ी चादर भी लाल हो गई थी.

और इधर अब  साहिल एक हाथ से मेरी चुत में उंगली किये जा रहा था, और दूसरे हाथ से अपने लंड को पकड़ रखा था. और उसका लंड कायरा के बॉयफ्रेंड से बहुत बड़ा था. लेकिन अब मुझे भी इस खेल में मज़ा आने लगा था अब मन ही मन में यही सोच रही थी की साहिल मुझे जल्दी से जल्दी चोदने लगे लेकिन वह सिर्फ मेरी चूत पर अपनी घडी की सुइयों की तरह उंगलियां फेर रहा था. इतने में मैंने साहिल में मेरी पैंटी उतर दी तो में मन ही मन खुस हो गई की अब वह मुझे चोदेगा लेकिन अब वह मेरी गुलाबी चूत चाटने लगा था जिसकी वजह से में और भी ज्यादा चुदने के लिए व्यकुल हो रही थी, और वह लगातार में चूत में अपनी जीभ हो फेहरा रह था. तभी साहिल ने मुझे गोद में उठा लिया।

Chandani

साहिल ने मुझे नंगा कर अपने बिस्तर पर पटक दिया

साहिल ने मुझे गोद में उठा कर अपने रूम की तरफ चल दिया, और उसने मुझे गोद में लिए लिए ही अपने रूम का दरवाजा खोल दिया और मुझे नंगा ही अपने गुदगुदे बिस्तर पर पटक दिया। अब उसने मेरी ब्रा भी उतर दी थी, अब हम दोनों में से किसी के भी बदन पर कोई कपडा नहीं था. और अब उसका लंड का आकर और भी ज्यादा बड़ा हो गया था जिसको देख कर मुझे बहुत डर भी लग रहा था. लेकिन अब मुझे चुदने का बहुत तेज़ मन था तो मैंने खुद ही साहिल का लंड पकड़ कर अपनी चूत पर रख लेकिन जब उसने तोडा सा ही जोर लगया तो मेरी चीज निकल गई और साहिल रुक गया. अभी लंड के आगे का हिस्सा भी जा पाया था और मेरे दर्द की कोई सीमा नहीं थी साहिल काफी देर तक कोसिसि करता रहा और में भी उसका साथ दे रही थी लेकिन उसने अपना लंड मेरी चूत में नहीं डाल पाया।  जिसकी एक वजह यह भी थी की साहिल का लंड बहुत बड़ा है और मेरी छूट बहुत टाइट थी। बाद में साहिल ने मेरी टांगो को एक हाथ पकड़ लिया और मुझे पूरा दीवाल से लगा दिया ताकि मैं पीछे न उठ पाऊ और उसने एक ही झटके में अपना पूरा लंड मेरी छूट में डाल दिया। लेकिन जब उसने पूरा अपना लंड डाला तब मेरी चूत कोई दर्द की सीमा नहीं रही अब मुझे यही लग रहा था की साहिल जल्दी से अपना लंड बहार निकल ले. लेकिन अब साहिल को मेरी चूत की आनंद आ रहा था और वह मुझे जोर जोर के झटके देने लगा जिससे कि उसका बचा हुआ भी लंड भी मेरी चूत के अंदर चला गया और मेरी चूत से ख़ून और आँख से आंसू निकल रहे थे. लिकिन अब मुझे भी उसके झटकों से मज़ा आने लगा था अब मैंने साहिल के शरीर को अपने बदन में कास के जकड लिया और साहिल ने मुझे तेज़ झटकों से चोदता रहा मुझे अभी पूरी तरह से मज़ा आना सुरु ही हुआ था की साहिल का वीर्य मेरी योनि के अंदर ही निकल गया और उसने मेरे शरीर को छोड़ दिया।

Chandani-4

अभी  मेरा मन नहीं भरा था

जब साहिल ने मेरा बदन को खुद दूर किया तो मैं उदास हो गई क्युकी अभी मुझे और भी ज्यादा चुदना था।  लेकिन साहिल का लंड अब झुक गया था. तभी मैंने उसका रूम छोड़ दिया और उस रूम में चली गई जहाँ साहिल के दो और दोस्त सो रहे थे।  मैं चुप चाप उनके बिस्तर में उन दोनों के बीच में नंगी ही लेट गई और धिरे-२ अपने दोनों हांतों से उन दोनों के लंड हाथ फेरनी लगी। अब उन दोनों के लंड खड़े हो गए थे और वो जग भी गए थे. जिसमे से एक ने आंख खुलते ही मेरे ऊपर चढ़ गया और अपना लैंड मेरी चूत में दाल दिया और दूसरे ने अपना लंड निकल कर मेरी पीछे के छेद में डाल दिया जिसकी वजह से मेरी एक बार फिर मेरी चीक निकल गई। लेकिन अब मुझे और भी ज्यादा मज़ा आ रहा था जिसमे एक लड़के ने अपना लैंड मेरे पीछे के छेद से निकल कर मेरे मुँह में दे दिया और उसने अपना सारा वीर्य मेरे मुँह के अंदर ही निकल दिया। और दूसरे लड़का अभी मेरी चूत मरने में लगा था। अब मेरा भी मन भर गया लेकिन, वह लगातार मुझे चोदते ही जा रहा था।  लेकिन अब में यह चाहती थी की वह अपना लंड बहार निकाल ले। पर उस लड़के मन भर ही नहीं रहा था और उसने मुझे इतनी तेज़ पकड़ रखा था कि में उसका दूर भी कर पाई. अब ये सब मेरे बर्दास्त के बहार हो गया था तो में बेहोश हो गई थी और वह मुझ बाद में चोदता रहा।  और जब मुझे होश आया तो मैंने देखा की मेरी चूत से सब वीर्य निकल रहा था और मेरे निचे पुअर बिस्तर ख़राब हो गया था.

कहानी अभी बाकी  है, जो आपको पार्ट -२  मिलेगी। 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
100 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Comment