चुदाई करके फसी टीचर- Miss Teacher

Miss Teacher

हेलो मेरे प्यारे पाठकों। मेरा नाम नीलिमा है और मैं कानपुर की रहने वाली हूँ। मैं अपनी डिग्री की पढ़ाई करने के साथ-साथ ट्यूशन भी लेती हूँ। मेरी कॉलेज की टीचर कोचिंग क्लास चलाती हैं।

मैं उनके साथ मिलकर १०वी और १२वी के छात्रों को पढ़ाती हूँ। बात यह है कि मेरी कॉलेज की टीचर जिनका नाम अर्चना जोशी है, उनके पति काम के चक्कर में इतने व्यस्त है कि वह अपनी बीवी को ख़ुश नहीं रख पाते।

मैं रोज़ कोचिंग क्लास में अर्चना मैडम की हरक़तों पर नज़र रखती हूँ, इसलिए मुझे पता है कि वह अपनी चूत की आग को बुझाने के रही हैं। उनकी नज़र हमारे कोचिंग क्लास में आने वाले लड़के नीरज पर टिकी रहती है।

नीरज दरअसल २० साल का लड़का है जो १२वी में तीन बार फ़ैल हो चुका है। अर्चना मैडम काफ़ी समय से नीरज को अपने जाल में फ़साने की कोशिश कर रही थी। वह उसकी बेंच पर बैठकर पढ़ाती ताकि नीरज का ध्यान उनकी मोटी गाँड़ पर पड़ जाए।

स्कूल में मेरी चुदाई की शुरुआत- School Me Chudai

वैसे नीरज को ज़्यादा समय नहीं लगा था यह बात जानने में कि अर्चना मैडम उसके लौड़े के पीछे पड़ी है। लेकिन कोचिंग क्लास में सभी छात्रों के साथ रहकर यह दोनों इश्क़ नहीं लड़ा पाते थे।

मैं कई दिनों से देख रही थी कि नीरज और अर्चना मैडम क्लास में सबके जाने के बावजूद भी रूकते थे। एक दिन जब मैंने अर्चना मैडम से कारण पूछा तब वह कहने लगी कि नीरज को इस बार १२वी कक्षा में पास करने की ज़िम्मेदारी मैंने ली है, इसिलए मैं उसका एक्स्ट्रा क्लास लेती हूँ।

वैसे मुझे उनकी बात पर पहले यक़ीन होने लगा था लेकिन कुछ दिनों बाद मुझे कोचिंग क्लास के कचरे डब्बे में कंडोम पड़ा हुआ मिला। इस बात में कोई शक नहीं था कि नीरज अर्चना मैडम की चुदाई कर रहा है, मगर मुझे उन दोनों को रंगे हाथ पकड़ना था।

अर्चना मैडम मेरी पगार अटकाए रखती थी उस बात का बदला लेने का मौका मुझे मिल गया था। एक दिन, कोचिंग क्लास ख़तम हो जाने के बाद मैं टॉयलेट में जाकर छिप गई।

सभी छात्र निकल गए थे सिवाय नीरज के। मैं थोड़ी देर टॉयलेट में रूककर देखने लगी कि यह दोनों आखिर करते क्या थे। अर्चना मैडम ने कोचिंग क्लास का मुख्य दरवाज़ा अंदर से बंद कर दिया और पैसेज लाइट को बंद करके क्लास रूम में चली गई।

मैंने टॉयलेट का दरवाज़ा खोला और दबे पाँव चलकर क्लास रूम के पास आकर खड़ी हो गई। अंदर झाँककर देखने पर मैंने नीरज को अर्चना मैडम की चुम्मियाँ लेते हुए पाया।

अर्चना मैडम बेंच पर बैठी थी और नीरज खड़े रहकर अपनी ज़ुबान को मैडम के मुँह में डालकर चाट रहा था। नीरज ने मैडम के कमर को कसके पकड़ रखा था। बहुत देर तक एक दूसरे की चुम्मियाँ लेने के बाद, नीरज ने अपनी पैंट उतार दी।

अर्चना मैडम नीचे पैरों के बल झुककर बैठ गई और नीरज के लौड़े को कच्छे से बाहर निकालने लगी। उसका लौड़ा अपने हाथ में पकड़कर उसे सहलाने लगी और फिर अपने मुँह में उसका जवान लौड़ा भर दिया।

नीरज के लौड़े को अच्छे से चूसते हुए अर्चना मैडम उसकी गोटियों पर अपनी उँगलियों को घुमाने लगी। नीरज मैडम के बालों को पकड़कर अपने लौड़े को उनके मुँह में भर रहा था।

अर्चना मैडम ने नीरज की गाँड़ की दरार में अपनी उँगलियाँ फ़सा दी और उसे दबाने लगी। कुछ देर बाद, नीरज ने मैडम को उठा दिया और बेंच पर उनके पेट के बल लेता दिया।

नीरज नीचे झुककर मैडम की लेग्गिंग और चड्डी को नीचे खींच लिया और उनके चुत्तड़ों को फ़ैलाने लगा।

उसने मैडम की गाँड़ की दरार को अच्छी तरह से चाटकर गिला कर दिया था। मैडम उत्तेजित होकर अपनी मोटी गाँड़ को उसके मुँह पर झूला रही थी। नीरज ने मैडम की गाँड़ की छेद में अपनी दो उँगलियाँ घुसा दी और उन्हें अंदर-बाहर करने लगा।

अपनी जुबान से वह मैडम की मोती चूत को चाट रहा था। उसने अर्चना मैडम की चूत की पँखुड़ियाँ फ़ैलाई और चूत की चमड़ी को चाटने लगा। अर्चना मैडम के पैर थरथराने लगे थे। मैडम सिसकियाँ लेकर मज़े ले रही थी और नीरज को उकसा भी रही थी।

कुछ देर बाद, नीरज खड़ा हो गया और उसने अपनी उँगलियों को अर्चना मैडम के मुँह के अंदर घुसा दिया। नीरज अपने तनकर खड़े हुए लौड़े को अर्चना मैडम की गाँड़ की दरार में रगड़ रहा था। मैडम के मुँह से अपनी उँगलियाँ निकालकर नीरज उनके होंठों को चूसने लगा।

उसने मैडम के मुँह से सारा थूक निकालकर अपने मुँह में ले लिया। नीरज ने मैडम की गाँड़ पर २-३ थप्पड़ मारकर उनकी चीख़ें निकालनी शुरू की। उसने अर्चना मैडम की टाँगों को फैलाया और अपना काला लौड़ा उनकी चूत के पास रखकर अंदर घुसा दिया।

वह मैडम के चूचियों को पकड़कर उन्हें एक दूसरे के साथ दबाने लगा। साथ ही साथ, वह मैडम को पीछे से धक्के मारकर उनकी चूत चोदने लगा। उसने अर्चना मैडम की कुर्ती को उतार दिया और ब्रा के हुक को पीछे से निकालने लगा।

अर्चना मैडम को मोटी लटकती चूचियों दो दबोचकर नीरज ने ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारना शुरू कर दिया। नीरज अर्चना मैडम की गाँड़ पर अपना पेट घिसकर उनकी चुदाई कर रहा था।

अर्चना मैडम चिल्लाकर मज़े लेने लगी और नीरज को और तेज़ी से चोदने के लिए कह दिया। नीरज ने अर्चना मैडम को फिरसे उनके पेट के बल बेंच पर झुका दिया और उनकी कमर पकड़कर चुदाई करने लगा।

वह ज़ोर-ज़ोर से अर्चना मैडम की चूत को थोक रहा था। कुछ देर तक ज़ोर-ज़ोर से अर्चना मैडम की चूत चुदाई करने के बाद नीरज ने अपना लौड़ा चूत में से बाहर निकाल दिया। तभी अर्चना मैडम की चूत से पानी की धार निकली।

मैडम के चूत से निकला हुआ पानी पहले नीरज के पेट पर गिरा और फिर उनकी चड्डी और लेग्गिंग पर। नीरज ने अर्चना मैडम की गाँड़ की छेद के अंदर थूक मारी और उसमें अपनी दो उँगलियाँ घुसा दी।

अपनी उँगलियों से वह मैडम की गाँड़ की छेद को चौड़ा करने लगा। फिर उसने अपने लौड़े की नोक को अर्चना मैडम की गाँड़ की छेद के सामने रखा और धीरे-धीरे उसे अंदर घुसाने लगा।

अर्चना मैडम के चुत्तड़ों को फैलाकर नीरज अपने लौड़े को उनकी गाँड़ में अंदर तक घुसाने लगा। मैडम उत्साहित होकर बेंच पर अपना हाथ पटकने लगी थी। नीरज जैसे ही तेज़ी से अपने लौड़े को उनकी गाँड़ में घुसाता, वह अपने पैर ढ़ीले छोड़ देती।

कुछ देर बाद, नीरज ने अर्चना मैडम की टाँगों को पकड़कर उठा दिया और अपने लौड़े को उनकी गाँड़ की छेद के अंदर घुसाना जारी रखा। नीरज ने अचानक से अपने लौड़े को मैडम की गाँड़ की छेद से बाहर खींच लिया।

मैडम ज़ोर से चिल्लाई और तभी उनकी गाँड़ की छेद से पानी की धार निकली। नीरज ने मैडम की गाँड़ की छेद के अंदर पेशाब कर दिया था। अर्चना मैडम के पैर काँप रहे थे इसलिए नीरज उन्हें ठीक तरह से चोद नहीं पा रहा था।

नीरज ने उनकी चड्डी और लेग्गिंग को पैर के नीचे से निकाल दिया और उनकी जाँघों से पकड़कर उन्हें उठा लिया। नीरज अर्चना मैडम को खड़े-खड़े चोद रहा था।

अर्चना मैडम ने अपने पैर को बेंच पर रख दिया ताकि नीरज को उनका भरी बोझ उठाना न पड़े। नीरज आगे से उनकी चूत रगड़ते हुए गाँड़ में लौड़ा घुसा रहा था।

कुछ देर बाद, नीरज ने अपने लौड़े का पानी अर्चना मैडम की गाँड़ की छेद के अंदर निकाल दिया। मैंने उस वक़्त उन दोनों की तस्वीर अपने मोबाइल फ़ोन से खींच ली और वहाँ से निकल गई।

अगले दिन मैंने अर्चना मैडम को वह तस्वीर दिखाई और उनसे कहा कि अगर वह कोचिंग क्लास मेरे नाम पर नहीं करती है तो मैं उस तस्वीर को उनके पति और नीरज की माँ को दिखा दूंगी।

उस बात को अब १ महीना हो गया है। कोचिंग क्लास मेरे नाम पर है और मेरी लाइफ सेट हो गई है।

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Antarvasna Sex Story
चूत हमारी देसी, चोद गया पडोसी- Antarvasna Sex Story

हैल्लो दोस्तों.. हमारा नाम वर्षा है और मै गोवा मै रहती हूँ। हमारी उम्र 20 साल है और मै एक मध्यमवर्गीय परिवार से हूँ। हमारा रंग गोरा है और हमारी हाईट 5.4 इंच है। मै सुंदर दिखती हूँ और बहुत से लड़को ने हमे कई बार प्रोपज किया है लेकिन …

XXX Story
सम्भोग गाथा – पति, पत्नी और गैर मर्द- XXX Story in Hindi

हैल्लो फ्रेंड्स.. में अपनी सम्भोग गाथा आज आप लोगो के सामने पेश कर रही हूँ। फ्रेंड्स हमारी मित्र का नाम नम्रता है और आप सभी को हमारी तरफ से नमस्ते.. फ्रेंड्स आप सभी की ही तरह में भी इस साईट की बहुत बड़ी दीवानी हूँ और हमे इस साईट पर …

Desi Chudai
देसी चूत और सामूहिक चुदाई का सुख- Group Sex Stories, Desi Chudai

हैल्लो दोस्तों पहले मैं आप सभी को अपना परिचय दे दूँ.. मेरा नाम मोना है और मैं 21 साल की हूँ और मैं बहुत सेक्सी लड़की हूँ और मैं एक इंजिनियरिंग स्टूडेंट भी हूँ। मेरा फिगर 32-30-36 और 5.4 इंच हाईट और गोरा कलर, सिल्की बाल, और मैं बहुत सुंदर …