जब मैंने खुशबू की चूत को चाटा – Fucking Story

Fucking Story
Fuck Stories

Fucking Story : एक दिन मैं और खुशबू साथ में बैठे हुए थे उस दिन खुशबू ने मुझसे कहा कि सुरेश क्या तुम शादी को लेकर सीरियस भी हो या नहीं। मैंने खुशबू को कहा कि ऐसी तो कोई भी बात नहीं है। खुशबू मुझे कहने लगी कि मुझे तो लगता है कि तुम बिल्कुल भी सीरियस नहीं हो मैंने खुशबू को कहा ऐसा कुछ भी नहीं है तुम्हें ना जाने ऐसा क्यों लग रहा है।

खुशबू ने मुझे कहा कि सुरेश हम दोनों एक दूसरे को पिछले 5 वर्षों से जानते हैं और अभी तक तुमने अपनी फैमिली को मेरे बारे में बताया भी नहीं है और ना ही तुमने मेरी फैमिली से इस बारे में कुछ बात की है। खुशबू अपनी जगह बिल्कुल ठीक थी वह मुझे कहने लगी की मेरे लिए रिश्ते आने लगे हैं और अगर तुमने जल्द से जल्द अपने घरवालों से मेरे बारे में बात नहीं की तो कहीं मेरी शादी किसी और से ना हो जाए। मैंने खुशबू को कहा कि खुशबू ऐसी बात नहीं है मैं उन्हें बताना चाहता हूं लेकिन तुम तो जानती हो कि अभी मुझे थोड़ा समय चाहिए।

मैं चाहता था कि पहले मैं अपने करियर को थोड़ा सा और अच्छे से बना लूँ उसके बाद ही मैं अपनी फैमिली में इस बारे में बात करूं लेकिन खुशबू मेरी बात बिल्कुल भी नहीं समझ रही थी।

खुशबू मुझे कहने लगी की तुम एक अच्छी कंपनी में जॉब करते हो। मैंने खुशबू को कहा कि हां खुशबू मुझे मालूम है कि मैं एक अच्छी कंपनी में जॉब पर हूं लेकिन फिर भी मुझे लगता है कि हम दोनों को थोड़ा समय और एक दूसरे को देना चाहिए। खुशबू मुझसे शादी करना चाहती थी और उस दिन खुशबू गुस्से में यह कह कर चली गई कि अगर तुम अपनी फैमिली को मेरे बारे में बता सकते हो तो तुम मुझसे बात कर लेना नहीं तो मैं तुमसे कभी बात नहीं करूंगी, यह कहकर वह वहां से चली गई।

मुझे भी लगा था कि शायद खुशबू मेरी बात समझ जाएगी लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं था वह मुझसे बात करने को तैयार नहीं थी। हम दोनों एक दूसरे से दूर होते जा रहे थे काफी दिन हो गए थे मैंने खुशबू से बात भी नहीं की थी और मुझे लग रहा था कि मुझे उससे बात करनी चाहिए। मैंने खुशबू को उसके बाद फोन भी किया लेकिन वह मेरा फोन ही नहीं उठा रही थी।

ना तो वह मेरा फोन उठा रही थी और ना ही वह मुझसे बात कर रही थी इसलिए अब हम दोनों एक दूसरे से काफी दूर होने लगे थे और मुझे भी डर सताने लगा था कि कहीं मैं खुशबू से दूर ना हो जाऊं।

मैंने भी अपनी फैमिली में इस बारे में बात करने का मन बना लिया था। मैंने जब पहली बार पापा को खुशबू के बारे में बताया तो वह लोग मुझसे कहने लगे कि हम लोग खुशबू को मिलना चाहते हैं।

पापा और मम्मी खुशबू को मिलना चाहते थे तो मैंने भी उनको खुशबू से मिलाने का फैसला कर लिया था। मैंने जब खुशबू को यह बात मैसेज के द्वारा बताई तो तब खुशबू ने मुझसे बात की। वह जब पहली बार पापा और मम्मी को मिली तो पापा और मम्मी भी खुशबू से मिलकर खुश थे वह लोग चाहते थे कि वह उसकी फैमिली में बात करें। पापा और मम्मी ने जब हमारे रिश्ते की बात खुशबू के पापा से की तो वह लोग भी खुशबू की शादी मुझसे करवाने के लिए तैयार हो चुके थे। सब कुछ अच्छे से चलने लगा था और हम दोनों की सगाई भी जल्द ही होने वाली थी।

खुशबू अब बहुत खुश थी और वह मुझे कहने लगी कि मैं बहुत ही ज्यादा खुश हूं जिस तरीके से तुमने अपने पापा को हम दोनों के बारे में बताया। कुछ ही दिनों बाद हम दोनों की सगाई भी हो चुकी थी और इस बात से मैं बहुत ही ज्यादा खुश था।

खुशबू और मेरी सगाई हो चुकी थी तो खुशबू बहुत खुश थी और मैं भी बहुत ज्यादा खुश था। हम दोनों एक दूसरे के साथ अब ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की कोशिश करने लगे थे।

एक दिन तो खुशबू और मैं साथ में बैठे हुए थे उस दिन खुशबू ने मुझे कहा कि सुरेश आज मुझे शॉपिंग करनी है तो मैंने खुशबू को कहा कु ठीक है चलो। उस दिन हम दोनों शॉपिंग करने के लिए चले गए और खुशबू ने काफी शॉपिंग की फिर हम लोग घर लौट आए थे। मैंने खुशबू को उसके घर तक छोड़ दिया था और फिर मैं घर लौट आया था।

उस दिन पापा ने मुझसे कहा कि तुम लोगों ने अपनी शादी के बारे में कुछ सोचा है या नही, मैंने पापा से कहा कि हां पापा।

पापा और मम्मी चाहते थे कि हम दोनों की शादी जल्द से जल्द हो जाए और फिर मैंने भी इस बारे में खुशबू से बात की तो खुशबू भी इस बात के लिए तैयार हो चुकी थी।

हम लोगों की शादी अब जल्द से जल्द होने वाली थी और जब हम दोनों की शादी का दिन तय हो गया तो उसके बाद मैंने भी अपने दोस्तों को अपनी शादी में इनवाइट किया था। हम दोनों की शादी अब बड़े ही धूमधाम से हुई और खुशबू मेरी पत्नी बन चुकी थी। खुशबू भी बहुत ज्यादा खुश थी और मैं भी बहुत ज्यादा खुश था कि हम दोनों एक दूसरे के साथ में अच्छा समय बिता पा रहे हैं।

मैं और खुशबू एक दूसरे के साथ बड़े खुश थे और जिस तरीके से हम दोनों एक दूसरे के साथ में समय बिताया करते हैं उससे हम दोनों को बड़ा ही अच्छा लगता। खुशबू को भी बहुत ज्यादा अच्छा लगता था जब भी हम दोनों साथ में होते हैं। खुशबू पापा मम्मी की देखभाल अच्छे से कर रही थी और पापा मम्मी भी इस बात से बड़े खुश थे कि खुशबू से मेरी शादी हो गई है। खुशबू पापा और मम्मी का बड़े अच्छे से ध्यान रखती और घर में भी सब लोग इस बात से बड़े खुश है।

सब कुछ मेंरी जिंदगी में अच्छे से चलने लगा था। खुशबू चाहती थी कुछ दिनों के लिए हम लोग अपने हनीमून पर कहीं जाए। हम दोनों की शादी को 15 दिन हो गए थे इन 15 दिनों मे खुशबू ने पापा और मां का दिल जीत लिया था। अब हम दोनों घूमने के लिए कहीं जाने वाले थे।

मैंने खुशबू से कहा हम लोगों को कहां जाना चाहिए? खुशबू ने मुझे कहा मुझे तो शिमला जाना है। खुशबू को शिमला बहुत ही पसंद है वह मुझे पहले भी इस बारे में बता चुकी थी। मैं भी खुशबू की बात को मना ना कर सका और हमने शिमला जाने का फैसला कर लिया था। हम लोग शिमला चले गए।

जब हम लोग शिमला गए तो वहां पर मैं और खुशबू एक दूसरे के साथ पूरी तरीके से इंजॉय करना चाहते थे। शिमला का मौसम बहुत ही खुश गवार था सब कुछ अच्छे से चल रहा था। उस दिन हम दोनों एक दूसरे के साथ लेटे हुए थे मैंने खुशबू के हाथों को पकड़ा हुआ था लेकिन जब मैंने खुशबू के होंठों को चूमना शुरू किया तो वह गर्म होने लगी थी। वह मुझे कहने लगी मेरी गर्मी को तुमने बहुत ही बड़ा दिया है। मैंने खुशबू के होंठो को तब तक चूसा जब तक मैंने उसके गुलाबी होठों से खून नहीं निकाल दिया था।

उसके गुलाबी होठों से मैं पूरी तरीके से खून निकाल चुका था अब मैं चाहता था उसकी गर्मी को और भी ज्यादा बढ़ा दूं। मैने उसके कपडो को खोल दिया था। जब मैंने उसकी ब्रा को खोलते हुए उसके स्तनों को दबाना शुरू किया तो वह गर्म होने लगी। वह मुझे कहने लगी मेरी गर्मी को तुम पूरी तरीके से बढा चुके हो। उसे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा था वह बिल्कुल भी रह नहीं पा रही थी।

सारी रात पड़ोस की दोनों बहनों को एक साथ चोदा | Padosan Ki Chudai

वह मुझे कहने लगी मुझसे नहीं रहा जा रहा है मैंने खुशबू के बदन को बड़े ही अच्छे से महसूस किया और उसकी योनि को मैंने चाटना शुरु कर दिया था जिससे कि खुशबू की गर्मी और भी बढ़ने लगी थी वह पूरी तरीके से गरम होने लगी थी।

वह मुझे कहने लगी मेरी उत्तेजना बहुत ज्यादा बढ़ चुकी है मेरी गर्मी बहुत ही ज्यादा बढ चुकी थी इसलिए मैं बिल्कुल भी रह नहीं पा रहा था। ना तो मैं अपने आपको रोक पा रहा था ना तो वह रोक पा रही थी। मैंने खुशबू से कहा मैं तुम्हारी चूत में अपने लंड को डालना चाहता हूं मैंने खुशबू की योनि के अंदर अपने मोटे लंड को घुसा दिया था।

मेरा लंड खुशबू की चूत में गया तो वह बहुत जोर से चिल्लाने लगी और मुझे कहने लगी मुझे अच्छा लग रहा है। मैं और खुशबू एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे मैं खुशबू की चूत की गर्मी को पूरी तरीके से बढा चुका था।

मैं खुशबू की चूत की गर्मी को बढ़ाए जा रहा था उससे वह बहुत गर्म हो रही थी और मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है। अब खुशबू को बड़ा मजा आ रहा था और मुझे भी बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा था।

उसकी चूत की दीवार से से मेरा लंड टकराने लगा था मुझे अच्छा लग रहा था और खुशबू को भी बड़ा मजा आ रहा था। हम दोनो एक दूसरे का साथ अच्छे से दिए जा रहे थे। जब मैं खुशबू को चोद रहा था उससे हम दोनों को ही मजा आ रहा था। वह मेरा साथ अच्छे से दिए जा रही थी मेरे वीर्य की पिचकारी गिरते ही वह बोली आज तो मजा ही आ गया।

मैंने खुशबू को उसके बाद घोड़ी बनाकर चोदा और हम दोनों ने उसके बाद तीन बार और सेक्स के मजे लिए जिससे कि हम दोनों पूरी तरीके से गरम हो गए थे हमारी गर्मी बहुत ही ज्यादा बढ़ने लगी थी। हम दोनों ने शिमला में खूब इंजॉय किया और हम दोनों को बड़ा ही मजा आया जिस तरीके से हमने एक दूसरे की गर्मी को पूरी तरीके से बढ़ा दिया था और एक दूसरे के साथ में सेक्स किया था।

और कहानी पढ़ें :

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Desi Sex Story
Desi Sex Kahani
सोते वक्त लंड हाथ में लिया- Desi Sex Kahani

मेरा नाम अमन है मैं मथुरा का रहने वाला हूं हमारा परिवार एक मध्यमवर्गीय परिवार है मेरे पिताजी स्कूल में क्लर्क हैं लेकिन मेरे पापा हमेशा से चाहते थे कि हम लोग एक अच्छी शिक्षा ले जिससे कि हम लोग किसी अच्छे मुकाम पर पहुंचे इसलिए उन्होंने मुझे बेहद अच्छे …

Antarvasna Sex Story
केरल मे गांड मे डंडा- Antarvasna Sex Story

मेरी सासू मां हमेशा मेरी तारीफ करते रहते है और कहती तुम्हारी जैसी गुणवंती और अच्छी बहू पाकर मैं बहुत खुश हूं मैं अपने सासू मां को कभी भी शिकायत का मौका नहीं देती थी और अपने पति प्रमोद को भी मैंने कभी कोई शिकायत का मौका नहीं दिया। प्रमोद …

Hot desi sex
XXX Story in Hindi
चढती जवानी सौप दी- XXX Story

बचपन से ही घर में आए दिन मां पापा के झगड़े देखकर मैं परेशान हो गई थी मेरे शराबी बाप ने मुझे कभी अपनी बेटी समझा ही नहीं मेरी मां की जिंदगी तो उन्होंने पूरी तरीके से खराब कर ही दी थी लेकिन उसके बावजूद भी मां चाहती थी कि …